Month: November 2015

Dil Shayari – हम जा रहे हैं वहां जहाँ दिल की हो क़दर

हम जा रहे हैं वहां जहाँ दिल की हो क़दर ,
बेठे रहो तुम अपनी अदायें लिये हुए ..!!


Dil Shayari – तेरी गली में आकर के खो गये हैं दोंनो

तेरी गली में आकर के खो गये हैं दोंनो
मैं दिल को ढ़ूँढ़ता हुँ दिल तुमको ढ़ूँढ़ता है..