DilSeDilKiTalk

Baatein Dil Ki Always Rock

Ahmed Faraz Ghazal – कुछ न किसी से बोलेंगे

कुछ न किसी से बोलेंगे
तन्हाई में रो लेंगे

हम बेरहबरों का क्या
साथ किसी के हो लेंगे

ख़ुद तो हुए रुसवा लेकिन
तेरे भेद न खोलेंगे

जीवन ज़हर भरा साग़र
कब तक अमृत घोलेंगे

नींद तो क्या आयेगी “फ़राज़”
मौत आई तो सो लेंगे



Loading...

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
loading...
loading...
DilSeDilKiTalk © 2015