Best 4 Lines Sher O Shayari – सारा जहाँ चुपचाप है

सारा जहाँ चुपचाप है..
आहटें ना साज़ है……..
क्यों हवा ठहरी हुई है……..
आप क्या नाराज़ है…….!!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *