Category: Dard Shayari

Dard Shayari – तुम्हे क्या पता किस दर्द मे हूँ मैं

तुम्हे क्या पता, किस दर्द मे हूँ मैं..
जो लिया नही, उस कर्ज मे हूँ मैं..!


Dard Sher O Shayari – इस बहते दर्द को मत रोको ये तो सज़ा है


इस बहते दर्द को मत रोको ये तो सज़ा है किसी के इंतेज़ार की,
लोग इन्हे आँसू कहे या दीवानगी पर ये तो निशानी हैं किसी के प्यार की..