DilSeDilKiTalk

Baatein Dil Ki Always Rock

Category: Gair Shayari

Gair Shayari In Hindi – मैंने कब कहा तू मुझे

Advertisements

मैंने कब कहा तू मुझे गुलाब दे
या फिर अपनी मोहब्बत से नवाज़ दे,
आज बहुत उदास है मन मेरा
गैर बनके ही सही तू बस मुझे आवाज़ दे

Gair Shayari In Hindi – गैर की आरज़ू नही मुझको

गैर की आरज़ू नही मुझको,
तेरी मुहब्बत की तलब है…

Gair Shayari In Hindi – हुआ हर अजनबी अपना..

Advertisements

हुआ हर अजनबी अपना..
जब से तुझसे गैर हुए..

Gair Shayari In Hindi – अरसे से ये ख्याल

अरसे से ये ख्याल
मेरे सीने में सोया है,
वो जो अपना कहता था मुझको कभी
आज किसी गैर की बाहों में सोया है……..!!!!!

Gair Shayari In Hindi – जब तक तुम्हें न देखूं!

Advertisements

जब तक तुम्हें न देखूं!
दिल को करार नहीं आता!
अगर किसी गैर के साथ देखूं!
तो फिर सहा नहीं जाता!

Gair Shayari In Hindi – भले ही किसी गैर का

Loading...

भले ही किसी गैर का जागीर था वो,
पर मेरे ख्वाबों की भी तस्वीर था वो,
मुझे मिलता तो कैसे मिलता,
किसी और की हिस्से का तक़दीर था वो

Page 1 of 212
Loading...
DilSeDilKiTalk © 2015