DilSeDilKiTalk

Baatein Dil Ki Always Rock

Category: General

Best Ever Hindi Shayari On Life – क्या खुब लिखा है किसी ने

क्या खुब लिखा है किसी ने …

“बक्श देता है ‘खुदा’ उनको, … !
जिनकी ‘किस्मत’ ख़राब होती है … !!

वो हरगिज नहीं ‘बक्शे’ जाते है, … !
जिनकी ‘नियत’ खराब होती है… !!”

न मेरा ‘एक’ होगा, न तेरा ‘लाख’ होगा, … !
न ‘तारिफ’ तेरी होगी, न ‘मजाक’ मेरा होगा … !!

गुरुर न कर “शाह-ए-शरीर” का, … !
मेरा भी ‘खाक’ होगा, तेरा भी ‘खाक’ होगा … !!

जिन्दगी भर ‘ब्रांडेड-ब्रांडेड’ करने
वालों … !
याद रखना ‘कफ़न’ का कोई ब्रांड नहीं होता … !!

कोई रो कर ‘दिल बहलाता’ है … !
और कोई हँस कर ‘दर्द’ छुपाता है … !!

क्या करामात है ‘कुदरत’ की, … !
‘ज़िंदा इंसान’ पानी में डूब जाता है और ‘मुर्दा’ तैर के
दिखाता है … !!

‘मौत’ को देखा तो नहीं, पर शायद ‘वो’ बहुत
“खूबसूरत” होगी, … !
“कम्बख़त” जो भी ‘उस’ से मिलता है,
“जीना छोड़ देता है” … !!

‘ग़ज़ब’ की ‘एकता’ देखी “लोगों की ज़माने
में” … !
‘ज़िन्दों’ को “गिराने में” और ‘मुर्दों’ को “उठाने
में” … !!

‘ज़िन्दगी’ में ना ज़ाने कौनसी बात “आख़री”
होगी, … !
ना ज़ाने कौनसी रात “आख़री” होगी ।

मिलते, जुलते, बातें करते रहो यार एक दूसरे से ना जाने कौनसी “मुलाक़ात” “आख़री होगी” …


Advertisements

Desh Bhakti Song Lyrics – Ae Watan Ae Watan Humko Teri Kasam

जलते भी गये, कहते भी गये
आज़ादी के परवाने
जीना तो उसी का जीना है
जो मरना वतन पे जाने

ऐ वतन ऐ वतन हमको तेरी क़सम
तेरी राहों मैं जां तक लुटा जायेंगे
फूल क्या चीज़ है तेरे कदमों पे हम
भेंट अपने सरों की चढ़ा जायेंगे

कोई पंजाब से, कोई महाराष्ट्र से
कोई यू.पी. से है, कोई बंगाल से
तेरी पूजा की थाली में लाये हैं हम
फूल हर रंग के, आज हर डाल से
नाम कुछ भी सही पर लगन एक है
जोत से जोत दिल की जगा जायेंगे
ऐ वतन ऐ वतन…

तेरी जानिब उठी जो कहर की नज़र
उस नज़र को झुका के ही दम लेंगे हम
तेरी धरती पे है जो कदम ग़ैर का
उस कदम का निशाँ तक मिटा देंगे हम
जो भी दीवार आयेगी अब सामने
ठोकरों से उसे हम गिरा जायेंगे
ए वतन ए वतन…

तू ना रोना के तू है भगत सिंह की माँ
मर के भी लाल तेरा मरेगा नहीं
घोड़ी चढ़के तो लाते है दुल्हन सभी
हँसके हर कोई फाँसी चढ़ेगा नहीं

इश्क आज़ादी से आशिकों ने किया
देख लेना उसे हम ब्याह लाएंगे
ऐ वतन ऐ वतन…

जब शहीदों की अर्थी उठे धूम से
देशवालों तुम आँसू बहाना नहीं
पर मनाओ जब आज़ाद भारत का दिन
उस घड़ी तुम हमें भूल जाना नहीं

लौट कर आ सकें ना जहाँ में तो क्या
याद बनके दिलों में तो आ जाएँगे
ऐ वतन ऐ वतन…

Desh Bhakti Song Lyrics – Mere Desh Ki Dharti Sona Ugle

मेरे देश की धरती सोना उगले, उगले हीरे मोती
मेरे देश की धरती

बैलों के गले में जब घुँघरू जीवन का राग सुनाते हैं
ग़म कोस दूर हो जाता है खुशियों के कमल मुस्काते हैं
सुन के रहट की आवाज़ें यूँ लगे कहीं शहनाई बजे
आते ही मस्त बहारों के दुल्हन की तरह हर खेत सजे

मेरे देश की धरती सोना उगले उगले हीरे मोती
मेरे देश की धरती

जब चलते हैं इस धरती पे हल ममता अँगड़ाइयाँ लेती है
क्यों ना पूजें इस माटी को जो जीवन का सुख देती है
इस धरती पे जिसने जन्म लिया उसने ही पाया प्यार तेरा
यहाँ अपना पराया कोई नही हैं सब पे है माँ उपकार तेरा

मेरे देश की धरती सोना उगले उगले हीरे मोती
मेरे देश की धरती

ये बाग़ हैं गौतम नानक का खिलते हैं अमन के फूल यहाँ
गांधी, सुभाष, टैगोर, तिलक ऐसे हैं चमन के फूल यहाँ
रंग हरा हरिसिंह नलवे से रंग लाल है लाल बहादुर से
रंग बना बसंती भगतसिंह से रंग अमन का वीर जवाहर से

मेरे देश की धरती सोना उगले उगले हीरे मोती
मेरे देश की धरती

Majrooh Sultanpuri Filmi Songs – Teri Bindiya Re

तेरी बिंदिया रे
रे आय हाय
तेरी बिंदिया रे
रे आय हाय

सजन बिंदिया ले लेगी तेरी निंदिया

रे आय हाय
तेरी बिंदिया रे

तेरे माथे लगे हैं यूँ, जैसे चंदा तारा
जिया में चमके कभी कभी तो, जैसे कोई अन्गारा
तेरे माथे लगे हैं यूँ

सजन निंदिया…
सजन निंदिया ले लेगी ले लेगी ले लेगी
मेरी बिंदिया

रे आय हाय
तेरा झुमका रे
रे आय हाय
तेरा झुमका रे

चैन लेने ना देगा सजन तुमका
रे आय हाय मेरा झुमका रे

मेरा गहना बलम तू, तोसे सजके डोलूं
भटकते हैं तेरे ही नैना, मैं तो कुछ ना बोलूं
मेरा गहना बलम तू

तो फिर ये क्या बोले है बोले है बोले है
तेरा कंगना
रे आय हाय
मेरा कंगना रे
बोले रे अब तो छूटे न तेरा अंगना

रे आय हाय
तेरा कंगना रे

तू आयी है सजनिया, जब से मेरी बनके
ठुमक ठुमक चले है जब तू, मेरी नस नस खनके
तू आयी है सजनिया

सजन अब तो
सजन अब तो छूटेना छूटेना छूटेना
तेरा अंग्ना

loading...
Loading...
Loading...
DilSeDilKiTalk © 2015