Category: Izhaar Shayari

Izhaar Shayari In Hindi – वो सज़दा ही क्या….जिसमे सर

वो सज़दा ही क्या….जिसमे सर उठाने का होश रहे….!!
इज़हार ए इश्क़ का मजा तब…जब मैं बेचैन रहूँ और तू ख़ामोश रहे….!!


Izhaar Shayari In Hindi – कसूर तो था इन निगाहों


कसूर तो था इन निगाहों का,
जो चुपके से उनका दीदार कर बैठी।
हमने तो खामोश रहने की ठानी थी,
पर बेवफा जुबान इज़हार कर बैठी।।

Izhaar Shayari In Hindi – तेरी आवाज़ से प्यार है

तेरी आवाज़ से प्यार है हमें
इतना इज़हार हम कर नहीं सकते,
हमारे लिए तू उस खुदा की तरह है
जिसका दीदार हम कर नहीं सकते