Category: Nafrat Shayari

Nafrat Shayari – इतनी शिद्दत से वो हि नफरत कर सकता है

इतनी शिद्दत से वो हि नफरत कर सकता है..
जिसने प्यार भी उतनी शिद्दत से किया हो…


Nafrat Shayari – वोह आज भी कहती है दीवाना मुज़े


वोह आज भी कहती है दीवाना मुज़े,
जिसको मेरी दिल्लगी से नफरत थी…

Best 2 Lines Sher O Shayari – मै खुश हू कि उसकी नफ़रत का अकेला वारिस हू

मै खुश हू कि उसकी नफ़रत का अकेला वारिस हू,
वरना मोहब्बत तो उसे कई लोगो से है…


Best 2 Lines Sher O Shayari – आज उसने बहुत अजीब सी बात कही


आज उसने बहुत अजीब सी बात कही ….
तुम जिन्दगी हो मेरी और मुझे जिन्दगी से नफरत है…!!!