Category: Romantic Hindi Shayari

Hindi Shayari – मेरी नासमझी की भी

मेरी नासमझी की भी हद ना पूछिए दोस्तों,

उन्हें खोकर हम फिर उन जैसा ही ढूढ रहे हैं.

Hindi Shayari – काश मेरा घर तेरे

काश मेरा घर तेरे घर के करीब होता,

बात करना न सही , देखना तो नसीब होता.