Dard Bhari Shayari 2 Lines – मेरी खामोशी देखकर मुझसे ये ज़माना बोला

मेरी खामोशी देखकर मुझसे ये ज़माना बोला,
तेरी संज़ीदगी बताती है तुझे हँसने का शौक़ था कभी…!!

6 Comments

Add a Comment
  1. mohobat karne wala jindgi bhar kuchh nahi ka kahta dil ki driya shor karrti hai samnder bhi kuch nahi karta ?????? Pyar karna to kishi ke dil se jism se nahi sujit zen

  2. प्यार करो तो किसी के दिल से करना…… . जिस्म से भी क्या प्यार करना जिसकी औकात बिस्तर तक और नतीजा बदनामी…….

    1. ज़िन्दगी बहुत कीमती है
      इसे उदासी में गंवाने से क्या फायदा
      गम आते है जाते है
      उनको दिल से लगाने से क्या फायदा

  3. ज़िन्दगी बहुत कीमती है
    इसे उदासी में गंवाने से क्या फायदा
    गम आते है जाते है
    उनको दिल से लगाने से क्या फायदा

  4. do kabj kya likhe tere yaad mai log kahne lage aasiq bahut ourana hai

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *