December Shayari In Hindi – तुम्हारे बाद ग़ुज़रे हैं भला

तुम्हारे बाद ग़ुज़रे हैं भला कैसे हमारे दिन
नवम्बर से बचे हैं तो दिसम्बर ने मार डाला!!!

Leave a Reply