December Shayari In Hindi – मैं कैसै सर्द हाथों से

मैं कैसै सर्द हाथों से तुम्हारे गाल छूता था ..
दिसम्बर में तुम्हें मेरी शरारत याद आयेगी ..

Leave a Reply