December Shayari In Hindi – यादों की शाल ओढ़कर वो

यादों की शाल ओढ़कर वो आवारागर्दियाँ
कुछ यूँ भी गुज़ारी हैं हमने दिसम्बर की सर्दियाँ…

Leave a Reply