December Shayari In Hindi – सर्दमेहरी यूँही दुनिया की भला

सर्दमेहरी यूँही दुनिया की भला क्या कम थी..
ऐ दिसम्बर जो तूने आ के सितम ढ़ाया है..!!

Leave a Reply