Hindi Shayari – इतनी मिन्नतों के बाद

इतनी मिन्नतों के बाद रुबरू हुए हो,समझ नही

आता तुम्हे देखूँ या तुम मे खो जाऊँ .

Leave a Reply