Hindi Shayari – जी करता है

जी करता है मुफ्त में ही उसे अपनी जान भी दे दूँ

.इतने मासूम खरीददार से क्या लेन – देन करना .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *