Hindi shayari – वो मेरे दिल से

वो मेरे दिल से बाहर निकलने का रास्ता न ढुंढ सके

,दावा करते थे जो मेरी रग-रग से वाकीफ होने का.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *