Hindi shayari – हाथ पकड ले पगली

हाथ पकड ले पगली अभी तेरा हो सकता हूँ,

भीड़ बहुत है खो भी सकता हूँ.

Leave a Reply