Hindi Shyari – वक़्त को देखा हैं

वक़्त को देखा हैं मैंने उड़ते हुए,

अक़्सर जब तुमसे मुलाक़ात होती हैं.

Leave a Reply