DilSeDilKiTalk

Baatein Dil Ki Always Rock

Javed Akhtar Ghazal – Ik Pal Gamon Ka Dariya Ik Pal Khushi Ka Dariya

इक पल गमों का दरिया, इक पल खुशी का दरिया
रूकता नहीं कभी भी, ये ज़िन्‍दगी का दरिया

आँखें थीं वो किसी की, या ख़्वाब की ज़ंजीरे
आवाज़ थी किसी की, या रागिनी का दरिया

इस दिल की वादियों में, अब खाक उड़ रही है
बहता यहीं था पहले, इक आशिकी का दरिया

किरनों में हैं ये लहरें, या लहरों में हैं किरनें
दरिया की चाँदनी है, या चाँदनी का दरिया


1 Comment

Add a Comment
  1. Masallah
    Aap mere sabse achchhe geetkar hai

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DilSeDilKiTalk © 2015