Jazbaat Shayari In Hindi – ना कोई फ़साना है ना

ना कोई फ़साना है ना कोई जज़्बात
मेरी तन्हाई और कुछ अनकहे अलफ़ाज़….

Leave a Reply