Missing You Shayari – खुल जाता है तेरी यादों का बाज़ार सरेआम

खुल जाता है तेरी यादों का बाज़ार सरेआम।
फ़िर मेरी रात इसी रौनक में गुज़र जाती है॥

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *