Hindi shayari – न जाने क्या मासूमियत

न जाने क्या मासूमियत है तेरे चेहरे पर .तेरे सामने

आने से ज़्यादा तुझे छुपकर देखना अच्छा लगता है।