Prerak Sher O Shayari – अपने मंसूबों को नाकाम नहीं करना है

अपने मंसूबों को नाकाम नहीं करना है,
मुझको इस उम्र में आराम नहीं करना है.

Leave a Reply