Romantic Poetry In Hindi 2 Lines – ना इश्क़ हार मानता और ना ही दिल बात मानता

ना इश्क़ हार मानता
और ना ही दिल बात मानता
क्यों नहीं तुम ही मान जाते

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *