Sad Hindi Shayari – तुझे खुद से निकाल तो दूँ मगर

तुझे खुद से निकाल तो दूँ मगर….
सोचता हूँ, फ़िर मुझमें बचेगा क्या..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *