Sad Hindi Shayari – दिल रोज सजता है नादान दुल्हन की तरह

दिल रोज सजता है, नादान दुल्हन की तरह..!!
गम रोज चले आते हैं, बाराती बनकर..!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *