Sad Hindi Shayari – नाकाम थीं मेरी सब कोशिशें उस को मनाने की

नाकाम थीं मेरी सब कोशिशें उस को मनाने की,
पता नहीं कहां से सीखी जालिम ने अदाएं रूठ जाने की।…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *