Sad Hindi Shayari – मैं हर रात सारी ख्वाहिशों को खुद

मैं हर रात सारी ख्वाहिशों को खुद से पहले सुला देता हूँ
मगर हर सुबह ये मुझसे पहले जाग जाती हैं…..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *