Sad Poetry In Hindi 2 Lines – मुझे किस तरफ जाना है कोई खबर नहीं,ए-दोस्तों

मुझे किस तरफ जाना है कोई खबर नहीं,ए-दोस्तों,
मेरे रस्ते खो गए…मेरी मोहोब्बत की तरह.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *