Sad Shayari In 2 Lines – जबसे तुम्हारे नाम की मिश्री होंठ लगाई है

जबसे तुम्हारे नाम की मिश्री होंठ लगाई है,
मीठा सा गम् है और मीठी सी तनहाई है …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *