Sad Shayari In Two Lines – गुजरे हुए कल की परछाईया साथ ही नहीं छोड़ती

गुजरे हुए कल की परछाईया साथ ही नहीं छोड़ती ,
और आने वाला कल है की दस्तक दिए जा रहा है …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *