Sad Shayari In Two Lines – तू बदनाम ना हो इसलिए जी रहा हूँ मैं

तू बदनाम ना हो इसलिए जी रहा हूँ मैं……,
वरना मरने का इरादा तो रोज होता है…….!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *