Shikayat Shayari In Hindi – तरस जाओगें हमारे लबों से

तरस जाओगें हमारे लबों से सुनने को एक एक लफ्ज़;
प्यार की बात तो क्या,
हम शिकायत भी नहीं करेंगे..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *