Ummed Shayari In Hindi – आरज़ू हसरत और उम्मीद शिकायत

आरज़ू हसरत और उम्मीद शिकायत आँसू
इक तिरा ज़िक्र था और बीच में क्या क्या निकला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *