Wada Shayari – जनाजा उठा है आज कसमों का मेरी

जनाजा उठा है आज कसमों का मेरी
एक कन्धा तो तेरे वादों का भी बनता है….!!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *