Wafa Shayari In Hindi – ये शीशे ये सपने ये

ये शीशे ये सपने ये रिश्ते ये धागे
किसे क्या ख़बर है कहाँ टूट जायें
मुहब्बत के दरिया में तिनके वफ़ा के
न जाने ये किस मोड़ पर डूब जायें…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *