Anmol Vachan Hindi Mein – इतनी ठोकरे देने के लिए शुक्रिया ए-ज़िन्दगी


इतनी ठोकरे देने के लिए शुक्रिया, ए-ज़िन्दगी..
चलने का न सही,,,,
सम्भलने का हुनर तो आ गया…

Leave a Reply