Best 25 Hindi Sher O Shayari By Varun Anand – Poetry Wallpapers


Varun Anand Ki Shayari Hindi Mein Wallpaper - Khamosh Hai To Gunga Samajh Baitha  Hai Hume
Varun Anand Ki Shayari Hindi Mein Wallpaper – Khamosh Hai To Gunga Samajh Baitha Hai Hume

Hindi Shayari By Varun Anand Wallpapers

जलवे तुझे दिखाएँगे बस इंतिज़ार कर

हम कौन हैं बताएँगे बस इंतिज़ार कर

ख़ामोश हैं तो गूँगा समझ बैठा है हमें

हम शोर भी मचाएँगे बस इंतिज़ार कर

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Shayari In Hindi

सुकूँ से रात बिताते थे मौज करते थे

जब उसके ख़्वाब न आते थे मौज करते थे

फ़ुज़ूल आ गए सहरा से शहर में हम लोग

वहाँ पे ख़ाक उड़ाते थे मौज करते थे

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Shayari In Hindi

तिरे चेहरे की रौनक़ खा रहा है

ये किसका ग़म तुझे तड़पा रहा है।

हमारा सब्र तो पूरा रहा था

हमारा फल मगर फीका रहा है

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Shayari In Hindi

कोई मिसाल नहीं है तिरी मिसाल के बाद

मै बे ख़याल हुआ हूँ तिरे ख़याल के बाद

बस इक मलाल पे तू ज़िन्दगी तमाम न कर

बड़े मलाल मिलेगें मिरे मलाल के बाद

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Shayari In Hindi

दुआ सलाम से आगे मै बढ़ नहीं पाता

उसे भी सोचना पड़ता है हाल-चाल के बाद

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Ki Shayari Hindi Mein Wallpaper - Apni Aankhon Mein Bhar Ke Le Jane Hai
Varun Anand Ki Shayari Hindi Mein Wallpaper – Apni Aankhon Mein Bhar Ke Le Jane Hai

Varun Anand Shayari In Hindi

अपनी आंखों में भर कर ले जाने हैं

मुझको उसके आंसू काम में लाने है

देखो हम कोई वहशी नहीं, दीवाने हैं

तुमसे बटन खुलवाने नहीं लगवाने है

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Shayari In Hindi

हम तुम एक दूजे की सीढ़ी है जाना

बाकी दुनिया तो सांपों के खाने हैं

पाक़ीज़ा चीजों को पाक़ीज़ा लिखो

मत लिखो उसकी आंखें मयखाने हैं

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Shayari In Hindi

मजबूर हो के उस से गले मिल रहे हैं हम

वो जिससे हम को हाथ मिलाने का मन नहीं

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Shayari In Hindi

कर सकता हूँ मै बंद भी कश्ती का वो सुराख़

पर आज अपनी जान बचाने का मन नहीं

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Shayari In Hindi

तेरे पीछे होगी दुनिया पागल बन

क्या बोला मैंने कुछ समझा? पागल बन

सहरा में भी ढूँढ ले दरिया पागल बन

वरना मर जाएगा प्यासा पागल बन

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Ki Shayari Hindi Mein Wallpaper - Tu Has Raha Hai Dukh Par Mere Has Magar Ye Sun
Varun Anand Ki Shayari Hindi Mein Wallpaper – Tu Has Raha Hai Dukh Par Mere Has Magar Ye Sun

Varun Anand Shayari In 4 Lines

तू हँस रहा है दु:ख पे मिरे हँस मगर ये सुन

आना है ऐसा वक़्त तो सब पर मिरे अज़ीज़

रिश्ता नहीं वो काँच का बरतन था ये समझ

और काँच कब जुड़ा है चटक कर मिरे अज़ीज़

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Shayari In Hindi

वक़्त मुश्किल कट रहा है, और तो सब ठीक है

दिल ज़रा नाशाद सा है, और तो सब ठीक है

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Shayari In Hindi

ज़ख़्म था तो दर्द से भी जी बहल जाता था कुछ

अब तो वो भी भर गया है, और तो सब ठीक है

कोशिशें करते हैं शब भर नींद पर आती नहीं

काम से जी भागता है, और तो सब ठीक है

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Shayari In Hindi

रब्त है मुझ से तिरा तो रब्त का उनवान बोल

या मुझे अंजान कह दे या फिर अपनी जान बोल

एक ही चेहरा नज़र में और लबों पे इक ही नाम

और क्या होती है सच्चे इश्क़ की पहचान बोल ?

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Shayari In Hindi

किसी के वास्ते गुल हैं किसी को ख़ार हैं हम लोग

किसी के जानी दुशमन हैं किसी के यार हैं हम लोग

मुहब्बत कर तो लेते हैं मगर मजबूरियों के साथ

हमारा मसअला ये है दिहाड़ी-दार हैं हम लोग

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Ki Shayari Hindi Mein Wallpaper - Sabhi Se Sarsari Rishta Hi Rakho
Varun Anand Ki Shayari Hindi Mein Wallpaper – Sabhi Se Sarsari Rishta Hi Rakho

Varun Anand Motivational Shayari

सभी से सरसरी रिश्ता ही रक्खो

मुहब्बत में बड़ा नुक़सान है अब

नहीं पहचानता अब कोई मुझ को

यही मेरी नई पहचान है अब

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Shayari In Hindi

वफ़ा, खुलूस, मदद, देखभाल भूल गए

अब ऐसे लफ़्ज़ों का सब इस्तिमाल भूल गए

मनाना रूठना हिज्र ओ विसाल भूल गए

सभी मुहब्बतों का इस्तिमाल भूल गए

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Shayari In Hindi

नज़र के सामने वो बा- कमाल क्या आया

हम अपने हिस्से के सारे कमाल भूल गए

फिर उसने सोच समझ कर इक ऐसी चाल चली

कि जिसको देख के सब अपनी चाल भूल गए

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Shayari In Hindi

ये सुन कर हर कोई हैरान है अब

तू मेरी जाँ, किसी की जान है अब

मिला कर ख़ाक में अरमाँ हमारे

वो पूछे है कोई अरमान है अब

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Shayari In Hindi

दुनिया में और वक़्त बिताने का मन नहीं

लेकिन ख़ुदा के पास भी जाने का मन नहीं

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Ki Shayari Hindi Mein Wallpaper - Nahin Ye Baat Nahin Hai Ke Tujhse Pyar Nahi Hai
Varun Anand Ki Shayari Hindi Mein Wallpaper – Nahin Ye Baat Nahin Hai Ke Tujhse Pyar Nahi Hai

Varun Anand Attitude Shayari

नहीं ये बात नहीं है कि तुझ से प्यार नहीं

मै क्या करूँ कि मुझे ख़ुद का एतिबार नहीं

लगा हूँ हाथ जो तेरे तो अब सँभाल मुझे

मै एक बार ही मिलता हूँ बार-बार नहीं

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Shayari In Hindi

ज़रा सी छाँव कमाने में उम्र बीत गई

दरख़्त ख़ुद को बनाने में उम्र बीत गई

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Shayari In Hindi

वो एक रब्त जो तुझसे हमारा था ही नहीं

वो एक रब्त बचाने में उम्र बीत गई

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Shayari In Hindi

ज़रूरी काम कोई वक़्त पे किया ही नहीं

बस अपनी मौज उड़ाने में उम्र बीत गई

#=#=#=#=#=#=#=#=#=#

Varun Anand Shayari In Hindi

बस एक बार लिखा दिल पे यूँ ही उसका नाम

फिर उसको दिल से मिटाने में उम्र बीत गई