Dil Ki Chubhan Shayari 2 Line Mein By Kunwar Bechain


तुम्हारे दिल की चुभन भी जरुर कम होगी
किसी के पाँव का काँटा निकाल कर देखो.

-कुंवर बेचैन

Dil Shayari – तेरी गली में आकर के खो गये हैं दोंनो

तेरी गली में आकर के खो गये हैं दोंनो
मैं दिल को ढ़ूँढ़ता हुँ दिल तुमको ढ़ूँढ़ता है..

Dil Shayari – लो तुम रख लो ये दिल

लो, तुम रख लो ये दिल..
सीने में बहुत चुभता है अब !

Dil Shayari – मुहब्बत नहीं है नाम सिर्फ पा लेने का


मुहब्बत नहीं है नाम सिर्फ पा लेने का,
बिछड़ के भी अक्सर दिल धड़कते हैं साथ-साथ !

1 2 3 4