Neend Shayari In Hindi – दो गज से ज़रा ज़्यादा


दो गज से ज़रा ज़्यादा जगह
देना कब्र में मुझे किसी की याद में करवट बदले बिना
मुझे नींद नहीं आती..

Neend Shayari In Hindi – एक अजब फ़िराक़ से एक

एक अजब फ़िराक़ से एक अजब विसाल तक
अपने ख़याल में चला फिर मुझे नींद आ गई

Neend Shayari In Hindi – खुलती नही है क्यूँ नींद

खुलती नही है क्यूँ नींद रफ्तगां की
क्या हश्र तक ये सोया पडा रहेगा

Neend Shayari In Hindi – कोई सुलह करा दे


कोई सुलह करा दे
ज़िन्दगी की उलझनों से
बड़ी तलब लगी है की,
चैन की नींद सो जाऊं…

1 2