Hindi Shayari In Four Lines – दिल के सागर मे लहरे उठाया ना करो


दिल के सागर मे लहरे उठाया ना करो,
ख्वाब बनकर नींद चुराया ना करो,
बहुत चोट लगती है मेरे दिल को,
तुम ख्वाबो में आ कर यू तडपाया ना करो….

Leave a Reply