Inspirational Shayari – उठो तो ऐसे उठो फक्र हो बुलंदी को भी


उठो तो ऐसे उठो, फक्र हो बुलंदी को भी;
झुको तो ऐसे झुको, बंदगी भी नाज़ करे

Leave a Reply