Judai Shayari – कलम में जितना दम है जुदाई की बदौलत है


कलम में जितना दम है जुदाई की बदौलत है !

वरना लोग मिलने के बाद लिखना छोड़ देते है ..!!!

Leave a Reply