Mohabbat Shayari – मुहब्बत तो बस इक एहसास है


मुहब्बत तो बस इक एहसास है,
जिस से हो जाए बस वही खास है…!

Leave a Reply