Sad Shayari In 2 Lines – तेरे मिलने का गुमानतेरे न मिलने की खलिश


तेरे मिलने का गुमान..तेरे न मिलने की खलिश,
वक़्त गुज़रेगा तो ज़ख्म भी भर जायेंगे ।।

Leave a Reply