Sad Shayari In Two Lines – हाथ पकड़ ले अब भी तेरा हो सकता हूँ मैं


हाथ पकड़ ले, अब भी तेरा हो सकता हूँ मैं,,
भीड़ बहुत है, इस मेले में खो सकता हूँ मैं..!!

Leave a Reply