Sad Sher O Shayari In Hindi – अब अपने ज़ख़्म दिखाऊँ किसे और किसे नहीं


अब अपने ज़ख़्म दिखाऊँ किसे और किसे नहीं …!
बेगाने समझते नहीं और अपनो को दिखते नहीं.

Leave a Reply