Sad Sher O Shayari In Hindi – ग़मों को आबरू अपनी ख़ुशी को गम समझते हैं


ग़मों को आबरू अपनी ख़ुशी को गम समझते हैं,
जिन्हें कोई नहीं समझा उन्हें बस हम समझते हैं.

Leave a Reply