Sad Sher O Shayari In Hindi – मेरी खमोशियो के राज़ ख़ुद मुझे ही नहीं मालूम


मेरी खमोशियो के राज़ ख़ुद मुझे ही नहीं मालूम…
जाने क्यू लोग मुझे मगरूर समझते है…

Leave a Reply